बाघेश्वर धाम डकैती, सोने के नाग और अन्य चोरी हुए सामान के लिए पुलिस की 8 टीमें लगाई गईं

0
255

सुनील दीक्षित हरियाणा अब तक कनीना। बीते बुधवार मध्य रात्री के समय प्राचीन शिवधाम बाघेश्वर धाम बागोत में हुई डकैती क ो लेकर शुक्रवार को पुलिस ने आज डॉग स्क्वायड के माध्यम से जांच की। डॉग को मंदिर के समीप बने मंहत के कमरे में ले जाया गया जहां अलमारी व तिजोरी को सुंघाकर आजादी से चलने दिया। उसके बाद डॉग जलाशय की ओर होता हुआ पुलिया की ओर से नवनिर्मित धर्मशाला के समीप से रास्ते से गुजर गया। पुलिस ने बारीकी से तहकीकात की। इस दौरान गांव के सरपंच विनोद कुमार, सुरेश अत्री, हरीश शास्त्री, नागेंद्र शास्त्री सहित ग्रामीण उपस्थित थे। दूसरी ओर इस घटना को लेकर क्षेत्र में तरह-तरह की चर्चा चल पड़ी है। आस्थावान प्रबुद्ध लोग इस मंदिर के सरकारी करण की मांग करने लगे हैं वहीं मंदिर संचालक एवं ग्रामीण पार्याप्त मात्रा में सुरक्षा व्यवस्था करने की मांग कर रहे हैं।

डकैती की घटना को लेकर पुलिस टीमें आपराधियों की तलाश में छापेमारी कर रही हैं। लेकिन अभी तक कोई महत्वपूर्ण सफलता नहीं मिल सकी है। मंदिर के महंत रोशनपुरी का कहना है कि आपराधियों ने उनके साथ मारपीट करते हुए हाथ-पांव बांध सीसीटीवी कैमरे, एलसीडी, मोबाईल फोन सहित कमरे में अन्य वस्तुओं को तोड़-फोड़ कर खंडित कर दिया था ओर मंदिर में पूजा अर्चना के काम आने वाले सोने चांदी के छतर, अन्य बर्तन व नकदी को काबू कर लिया। यहाँ से  चोरों ने सोने के नाग को भी चुरा लिया।  लूटपाट की इस वारदात में करीब दर्जनभर व्यक्तियों के शामिल होने की संभावना जताई गई है।

उल्लेखनीय है कि प्रदेशभर में शिवधाम के नाम से वि यात बाधेश्वर मंदिर में सावन माह कृष्ण पक्ष त्रयोदशी को विशाल कांवड मेला लगता है जहां लाखों श्रद्धालु प्राकृति शिवलिंग पर जला िाषेक करते हैं। इसके अलावा फल्गुन माह कृष्णपक्ष की त्रयोदशी को महाशिवरात्री पर मेला लगता है। शिव ाक्त निराहार रहकर जल अर्पित करते हैं। महाशिवरात्री पर्व आगामी 14 फरवरी को मनाया जाएगा। जिसकी तैयारियां की जा रही थी। मंहत ने बताया कि जो सीसीटीवी कैमरे तोड़े गए हैं वे चालू हालत में नहीं थे। उन्हें मेले के दौरान ही चालू किया जाता था। ग्रामीणों ने शासन-प्रशासन से जनता की सुरक्षा के लिए पुलिस गश्त बढाने की मांग की है। उन्होंने बताया कि सांवले व पतले बदन, ल बे कद व दूर की भाषा बोलने वाले व्यक्तियों ने अंदर पंहुचकर अलमारी व तिजोरी तोड़कर उसमें रखे उपरोक्त कीमती सामान को कब्जे में ले लिया ओर फरार हो गए।

सर्दी के समय हुई अब तक की सबसे बड़ी लूट को लेकर पुलिस प्रशासन चौकन्ना हो गया है। एसपी कमलदीप गोयल ने पुलिस कर्मचारियों को वादात का खुलासा करने के लिए दिशा-निर्देश दिए हैं। जिन्हें लेकर माना जा रहा है कि आपराधियों को जल्द ही काबू कर लिया जाएगा। उन्होने कहा कि उनके द्वारा पूरी स्थिति पर लगातार नजर रखी जा रही है। डीएसपी विनोद कुमार ने बताया कि अपराधियों को काबू करने के लिए दबिश दी जा रही है। सीआईए टीम को खेड़ा-बहुझोलरी व दादरी की ओर छापेमारी कर रही है। उन्होंने बताया कि आपराधिक घटना में शामिल अज्ञात लोगों के खिलाफ पुलिस ने मारपीट, लूटपाट, अवैध हथियार रखने सहित विभिन्न धाराओं के तहत केस दर्ज कर लिया है।

LEAVE A REPLY