भाजपा के जाल में फंसी कांग्रेस, बौखलाए कांग्रेसी CM ने तो राहुल के जनेऊ को ही उतरवा दिया

0
358

नई दिल्ली: वर्तमान समय में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पार्टी को आगे ले जाने में काफी पसीना बहा रहे हैं लेकिन उनकी ही पार्टी के नेता उनका खेल खराब कर देते हैं। गुजरात में अय्यर सिब्बल जैसे कांग्रेसी नेताओं ने कांग्रेस का विकेट गिरा दिया वरना कांग्रेस मैच जीत जाती। अब बारी कर्नाटक की है जहाँ कांग्रेस भाजपा के जाल में फंसती दिख रही है। राहुल गांधी तीन-चार महीने से खुद को पक्के हिन्दू साबित करने में जुटे हैं तो कर्नाकट के सीएम ने हिन्दुओं की संस्थाओं को उग्रवादी बता दिया और भाजपा को एक बड़ा मौका दे दिया। अब कर्नाटक के मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने आरएसएस और बीजेपी के कार्यकर्ताओं को हिंदू उग्रवादी बताकर एक नया विवाद खड़ा कर दिया। जिसके विरोध में भाजपा ने जेल भरो आंदोलन का ऐलान कर दिया है।

दरअसल सिद्धारमैया ने आज कहा कि बीजेपी, आरएसएस और बजरंग दल में आतंकी हैं। इन संगठनों का रास्ता आतंकियों जैसा है। उन्होंने आरोप लगाया कि पॉपुलर फ्रंट ऑफ इंडिया, सोशल डेमोक्रेटिक पार्टी ऑफ इंडिया, बजरंग दल, विश्व हिंदू परिषद् और दूसरे संगठन भी आतंकी गतिविधियों को फैलाने की कोशिश कर रहे हैं, उसे बिल्कुल बर्दाश्त नहीं करेंगे। सीएम ने अमित शाह के उस बयान का जवाब दिया जिसमें भाजपा अध्यक्ष ने उनपर वोट बैंक की राजनीति करने का आरोप लगाया था।

 

वहीं इस आरोप को खारिज करते हुए भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि कांग्रेस हिन्दुओं के खिलाफ नफरत फैलाने का काम कर रही है। उन्होंने कहा कि इससे पहले भी कांग्रेस सरकार के दौरान हिंदू आतंकवाद का जिक्र हो चुका है अब कर्नाटक में भी इस मुद्दे को उठाया जा रहा है। राहुल गांधी को निशाने पर लेते हुए पात्रा ने कहा कि कांग्रेस अध्यक्ष जनेऊ पहनकर अस्थाई हिंदू बनने की कोशिश में हैं। इससे कांग्रेस की सोच सामने आ रही है। राज्य के भाजपा नेता शोभा करंदलजे ने घोषणा की कि भाजपा कार्यकर्ता शुक्रवार को पूरे कर्नाटक में जेल भरो आंदोलन करेंगे। उन्होंने कहा कि हम सरकार से कहेंगे हम भाजपा और आरएसएस से हैं, इसलिए हमें गिरफ्तार करें। नहीं तो सीएम सिद्धारमैया अपने बयान पर माफी मांगें। हरियाणा अब तक के पाठकों को मालूम हो कि हाल में उत्तर प्रदेश के सीएम योगी के कर्णाटक दौरे से वहां के सीएम परेशान हैं ऊपर से अमित शाह ने भी उन्हें लपेट लिया और अमित शाह की रैलियों में कर्नाटक में भारी भीड़ उमड़ रही है इसलिए वहां के सीएम का बौखलाना संभव था और वो बौखला गए और कांग्रेस के दिग्विजय, अय्यर, सिब्बल बन गए।

श्रीमान दिग्विजय सिंह तो यात्रा पर हैं और इस दौरान कांग्रेस काफी मजबूत भी हुई लेकिन अब कांग्रेस ने कई दिग्विजय सिंह को अपने साथ जोड़ लिया है। भविष्य अंधकारमय है कहो तो लिखकर दे दूँ क्यू कि कांग्रेस के वर्तमान साथी रावण उर्फ़ भीम आर्मी के चीफ चंद्रशेखर, उमर खालिद, कन्हैया, जिग्नेश मेवानी को सोशल मीडिया पर बहुत गालियां मिलतीं हैं जिसे देख लगता है कि कांग्रेस के यही आजादी गैंग वाले साथी कांग्रेस को धूल में मिला देंगे।

LEAVE A REPLY