रामदेव से पंगा लेने पहाड़ पर चढ़े वकील पाराशर, कहा ये1500 एकड़ जमीन बाबा की होगी तो छोडूंगा नहीं

0
251

फरीदाबाद: बार एसोशिएशन के पूर्व अध्यक्ष और न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष एडवोकेट एल एन पाराशर का कहना है कि उन्होंने कोट गांव के सरपंच की एक डिटेल प्राप्त की है जिसमे पता चला है कि अरावली की जमीन जमकर बेंची गई है। वकील पाराशर ने कहा कि बाबा रामदेव के नाम पर कुछ लोगों में लगभग 1500 एकड़ जमीन खरीदी है जिसमे 300 एकड़ समतल भूमि और 1200 एकड़ पहाड़ पर खरीदी गई है। इस 1500 एकड़ जमीन की जीपीए नॉएडा से करवाई गई है। वकील पाराशर ने कहा कि कोट गांव वालों का कहना है कि ये 1500 जमीन बाबा रामदेव दे खरीदी है। गांव का बच्चा बच्चा यही कहता है। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि बाबा अब पक्के व्यापारी बन गए हैं, अवैध रूप से पहाड़ की जमीन खरीद रहे हैं।

वकील पाराशर ने कहा कि परवीन शर्मा नाम का कोई प्रॉपर्टी डीलर बाबा के लिए पहाड़ की जमीन खरीद रहा है और कल मैं मौके पर गया तो हजार एकड़ से ज्यादा जमीन पर तारफेंसिंग हुए देखा। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद प्रशासन की मिलीभगत के बगैर अरावली पर कोई एक इंच जमीन भी नहीं कब्ज़ा कर सकता लेकिन वर्तमान में अरावली पर सैकड़ों फ़ार्म हाउस और हजारों एकड़ जमीन पर कब्जा हो गया। उन्होंने कहा कि जिस तर्ज पर सुप्रीम कोर्ट ने कान्त एंक्लेब के अवैध निर्माणों को ढहाने का आदेश दिया है उसी तर्ज पर मैं सुप्रीम कोर्ट में याचिका फ़ाइल कर इन निर्माणों को भी ध्वश्त करवाऊंगा। उन्होंने कहा कि फरीदाबाद को प्रदूषण से बचाने के लिए अरावली को बचाना जरूरी है।

LEAVE A REPLY