ATM मशीन से धोखाधडी कर पैसे निकालने वाले एक आरोपी को CIA सै0 56 ने दबौचा

0
151

फरीदाबाद: पुलिस आयुक्त संजय कुमार के दिशा निर्देश पर एवं लोकेन्द्र कुमार के नेत्रत्व में कार्य करते हुए प्रभारी क्राईम ब्रांच सै0 56 इंस्पेक्टर आनंद एवं उनकी टीम के एएसआई महेन्द्र ने सराहनीय कार्य करते हुए ए.टी.एम मशीन से धोखधडी करने वाले एक आरोपी को पकडने में कामयाबी हासिल की है।

गिरफतार आरोपीः-

  1. मोहम्मद अल्ताफ पुत्र बसीर निवासी गांव खेडा जिला नूंह।

प्रभारी क्राईम ब्रांच इंस्पेक्टर आनंद ने बताया कि आरोपी को विशेष सूत्रों से मिली सूचना के आधार पर सै0 14 फरीदाबाद से गिरफतार किया गया है।

इंस्पेक्टर आनंद (प्रभारी क्राईम ब्रांच सै0 56) ने बताया कि उपरोक्त आरोपी और उसका एक साथी जिस भी बैंक के ए.टी.एम में वारदात करते थें पहले उसमें अपना खाता खुलवाते थें और उस खाते में पैसा जमा करते थें।

उसके बाद आरोपी ए.टी.एम में जाकर मशीन में अपना कार्ड डालकर पैसा निकालते थें, जैसें ही मशीन पैसे बहार निकाले को होती थी उस वक्त आरोपी का अन्य साथी मशीन का पावर बटन आॅफ कर देता था जिसपर पैसा तो निकल जाता था लेकिन यह नही अपडेट हो पाता था कि वह पैसा आरोपियों के ही एकांउट से निकला है। मशीन उन पैसों को बैगस ट्रांजेक्शन के रूप में दिखाती थी।

कई बार मशीन आॅफ करने पर पैसा तो निकल जाता था लेकिन आरोपी संबंधित बैंक के काॅलसेंटर में फोन कर कहते थें की उनको पैसा प्राप्त नही हुआ है और उनके खाते से पैसें जा चुके है। जिसपर बैंक उनके पैसें वापस लौटा देता था।

उपरोक्त आरोपियों के खिलाफ बैंक आॅफ बडोदरा ने पुलिस में शिकायत की जिसपर थाना सैन्ट्रल में एफआईआर नं0 31, दिनांक 15.01.2019, धारा 379, 420 आई.पी.सी के तहत मुकदमा दर्ज कर जांच क्राईम ब्रांच सै0 56 को सौंपी गई।

क्राईम ब्रांच सै0 56 के ए.एस.आई महेन्द्र ने मामले की गहनता से जांच करते हुए जिस-जिस ए.टी.एम से आरोपियों ने धोखाधडी की थी उनकी फुटेज निकालकर दोनो आरोपियों की तलाश शुरू की जिसपर उनकी टीम ने उपरोक्त आरोपी को धर-दबौचने में कामयाबी हासिल की।

पूछताछ पर आरोपी ने बताया कि वह यह काम नोट बंदी (2016) के समय से कर रहा है नोट बंदी के समय जब वह ए.टी.एम से पैसा निकाल रहा था तो लाईट चली गई थी जिसपर मशीन से तो पैसा निकल गया था लेकिन उसके खाते में यह अपडेट नही हो पाया था उसके बाद से आरोपी इस तरह की वारदात को अपने साथी के साथ अंजाम देना शुरू कर दिया था।,,,,,,,

ए.एस.आई महेन्द्र ने बताया कि आरोपी इस तरह की वारदात पलवल, नूंह, के रिमोट एरिया एवं फरीदाबाद के एरिया में दे रहा था,,,आरोपी ने इस तरह की वारदात को अंजाम देने के लिए एपलिकेश शब्द का कोड यूज करते थें।

उन्होने बताया कि आरोपी बी.काम फाईनल ईयर का स्टूडेंट है जोकि डी.ए.वी काॅलेज में पढ रहा है। आरोपी अपने जीजा के पास फरीदाबाद में रह रहा है आरोपी पैसों के लालच में आकर इस तरह की वारदात को अंजाम दे रहा था।

पुलिस प्रवक्ता सूबे सिंह ने बताया कि आज आरोपी को अदालत में पेश कर उसको जेल भेजा जाएगा, आरोपी के दूसरें साथी की भी तलाश जारी है जिससे जल्द गिरफतार किया।

LEAVE A REPLY