गिलानी, यासीन मलिक सहित 22 हुर्रियत नेताओं से सरकार ने छीनी सुरक्षा

0
206

नई दिल्ली: पुलवामा हमले के बाद केंद्र सरकार ने एक और बड़ा कदम उठाया है और अब हुर्रियत के 22 नेताओ से सुरक्षा छीन ली गई है। जम्मू और कश्मीर के 155 अन्य नेताओं की सुरक्षा में भारी बदलाव किया गया है। जिन हुर्रियत नेताओं की सुरक्षा छीनी गई है उनमे उनमें एसएएस गिलानी, आगा सैयद मोसवी, मौलवी अब्बास अंसारी, यासीन मलिक, सलीम गिलानी, शहीद उल इस्लाम, जफर अकबर भट, नईम अहमद खान, मुख्तार अहमद वाजा, फारूक अहमद किचलू, मसरूर अब्बास अंसारी, आगा सैयद अबुल हुसैन, अब्दुल गनी शाह और मोहम्मद मुसद्दिक भट शामिल है।

इन हुर्रियत नेताओं में से यासीन मलिक जैसे कई नेता आतंकी हाफिज सईद के साथ भी देखे गए हैं। इनमे से कई नेता सीधी तरह से पाकिस्तान की भाषा बोलते देखे जाते हैं। इन पर पत्थरबाजों के सपोर्ट का आरोप भी लगता रहता है और कहा जाता है कि ये भारत की खाते हैं और भारत सरकार से सुरक्षा लेकर आईएसआई की मदद करते हैं और घाटी में आतंक इन्ही की वजह से फलता-फूलता है।

LEAVE A REPLY