गरीबों को 10 रूपये में भोजन उपलब्ध, अम्बाला में शुरू हुई योजना

Ambala Haryana REPORT

चंडीगढ़, 14 जनवरी- हरियाणा के अम्बाला में आज दो महत्वपूर्ण योजनाएं नामत: सस्ता भोजन योजना और वरिष्ठ नागरिक हैल्पलाईन का शुभारम्भ किया गया।
एक सरकारी प्रवक्ता ने यह जानकारी देते हुए बताया कि सस्ता भोजन योजना जिला प्रशासन और श्री हरगोबिन्द साहिब सेवा सोसायटी द्वारा आरम्भ की गई। इस योजना के तहत प्रतिदिन प्रात: 10.00 बजे से दोपहर 2.00 बजे तक 10 रुपए में भोजन उपलब्ध करवाया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस योजना से विभिन्न क्षेत्रों से शहर में मजदूरी करने के लिए आने वाले गरीब लोगों और स्थानीय जरूरतमंद लोगों को मात्र 10 रुपए में एक वक्त का भोजन उपलब्ध होगा। प्रवक्ता ने बताया कि रैड क्रास सोसायटी अम्बाला के कार्यालय में वरिष्ठ नागरिक हैल्पलाईन का भी शुभारम्भ किया गया। वरिष्ठ नागरिक सभी कार्य दिवसों में प्रात: 10.00 बजे से सांय 5.00 बजे तक दूरभाष नम्बर 0171-2530556 पर किसी भी विभाग से सम्बन्धित अपनी शिकायत अथवा समस्या दर्ज करवा सकते हैं।

बुजुर्ग लोगों को विभिन्न विभागों से सम्बन्धित समस्याओं के लिए कार्यालयों के चक्कर लगाने पड़ते हैं। इस आयु में उनके लिए कार्यालयों में आना-जाना विशेषकर सर्दी, गर्मी और वर्षा के दिनो में बहुत कष्टकारी होता है नागरिकों की इस परेशानी के समाधान के लिए जिला प्रशासन द्वारा रैड क्रास सोसायटी के माध्यम से वरिष्ठ नागरिक हैल्पलाईन आरम्भ की गई है। उन्होंने कहा कि इस नम्बर पर आने वाली प्रत्येक शिकायत को सॉफ्टवेयर में रजिस्ट्रड किया जाएगा और सम्बन्धित विभाग को समस्या के शीघ्र समाधान के लिए भेजा जाएगा।
प्रथम चरण में यह सुविधा केवल कार्य दिवसों में प्रात: 10.00 से सांय 5.00 बजे तक उपलब्ध रहेगी। उन्होंने कहा कि भविष्य में गैर सरकारी संगठनों का सहयोग लेकर इस सुविधा को सप्ताह के सातों दिन और 24 घंटे चलाने का प्रयास किया जाएगा। उन्होंने बताया कि इस परियोजना के शुरूआत में कुछ परेशानियां आना स्वाभाविक है और जैसे-जैसे दिक्कतें आएंगी, उनका समाधान निकालकर इसे और अधिक प्रभावी बनाने के प्रयास किए जाएंगे।

इसके अतिरिक्त, बाजारों में अलग-अलग स्थानों पर रेहड़ी-फड़ी मार्किट लगने से जहां आम लोगों का असुविधा होती थी, वहीं दुकानदारों और रेहड़-फड़ी वालों की अलग-अलग समस्याएं सामने आती थी। स्वास्थ्य मंत्री ने इस समस्या के स्थाई समाधान के लिए दीना की मंडी क्षेत्र में 52 हजार वर्ग फुट क्षेत्र में रेहड़ी-फड़ी मार्किट बनवाने के लिए पहले 45 लाख रुपए की राशि स्वीकृत करवाई थी। इस स्थान के नजदीक कुछ लोगों द्वारा अतिक्रमण किया हुआ था और निगम द्वारा यह अतिक्रमण हटवाने के उपरांत यह क्षेत्र बढक़र 82 हजार वर्गफुट हो गया था।
उन्होंने बताया कि खाली करवाए गए क्षेत्र पर दोबारा अतिक्रमण रोकने के लिए इसे भी रेहड़ी-फड़ी मार्किट क्षेत्र के साथ जोड़ा गया है और अब यह पूरा क्षेत्र 82 हजार वर्गफुट हो गया है। इस कार्य के लिए स्वास्थ्य मंत्री में 35.50 लाख रुपए की राशि अलग से स्वीकृत करवाई है। अब इस पूरी परियोजना पर लगभग 70 लाख रुपए की राशि खर्च की जा रही है। उन्होंने बताया कि शहर के कुछ अन्य क्षेत्रों में भी रेहड़ी-फड़ी मार्किट बनाने के लिए जगह चिन्हित की जा रही है ताकि रेहड़ी फ ड़ी वालों को अपने कारोबार के लिए सुविधाजनक स्थान उपलब्ध हो सके।

loading...

Leave a Reply

*