आरुषि केस, सीबीआई पर सवाल उठाने लगे राम रहीम के भक्त, बोले बेगुनाह हैं बाबा

Allahabad HC sets aside CBI court's order, acquits Rajesh & Nupur Talwar

नई दिल्ली/ चंडीगढ़/ इलाहबाद: इस सड़ी के बहुचर्चित आरुषि हत्याकांड में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने बेटी की हत्या के आरोप में सजा काट रहे पिता राजेश तलवार और मां नुपुर तलवार को बरी कर दिया। सीबीआई अदालत का फैसला पलटते हुए हाईकोर्ट ने कहा कि कोई ठोस सबूत नहीं है इसलिए तलवार दंपति को संदेह का लाभ दिया जाता है।  राजेश और नूपुर कल जेल से रिहा हो सकते हैं।आरुषि के माता पिता राजेश तलवार और नुपुर तलवार को सीबीआई की कोर्ट ने कत्ल का दोषी ठहराया  था और उन्हें उम्रकैद की सजा सुनाई थी। जिसके खिलाफ तलवार दंपत्ति ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में अपील दायर की थी। न्यायमूर्ति बीके नारायण और न्यायमूर्ति एके मिश्रा की खंडपीठ ने आज  ये फैसला सुनाया इस फैसले के बाद हरियाणा के एक बड़े बाबा के भक्त सीबीआई के ऊपर सवाल उठाने लगे हैं। रेप केस में इस बाबा यानि गुरमीत राम रहीम को सीबीआई के अदालत ने बीस साल के सजा सुनाई है। अब बाबा के भक्तों का कहना है कि हमारा बाबा बेगुनाह है।

डेरा प्रवक्ता संदीप मिश्रा ने अपने फेसबुक पर कुछ लिखा है पढ़ें। #CBI का सफाई-अभियान शुरू  😁😁आरुषी की मासूमियत का कातिल मीडिया, माँ बाप को हत्यारा बताने वाला मीडिया, आज माफी मांग रहा है क्या? उधर खास सूत्रों से पता चला है कि डेरे के खास लोगों ने अपने वकीलों से संपर्क किया है और आरुषि के माता पिता को बाइज्जत रिहा करवाने वाले वकीलों की तरह काम करने को कहा है, कई डेरा भक्त तो ये चाहते हैं कि तलवार दंपत्ति का केस लड़ने वाले वकील को ही राम रहीम का केस लड़ने को कहा जाए। वैसे सीबीआई कोई हव्वा नहीं है। फरीदाबाद के सुनपेड़ के एक केस की जाँच सीबीआई अब तक नहीं कर पाई है जबकि इस केस का सच हरियाणा अब तक ने उस कांड के समय ही अपने पाठकों को बता दिया था कि मियाँ बीबी में अनबन थी, बच्चों को जला दिया, आरोप पुराने दुश्मनों पर लगा दिया।  लाख जांच करे सीबीआई लेकिन डंके की चोट पर कहता हूँ नतीजा यही निकलेगा।

loading...

Leave a Reply

*