केजरीवाल के डर से खट्टर ने कम किये बिजली के दाम, अब भी बोल रहे हैं झूंठ: जयहिंद

0
179

रोहतक, 16 सितम्बर। आज आदमी पार्टी प्रदेशाध्यक्ष नवीन जयहिंद ने रोहतक में प्रेस वार्ता कर मुख्यमंत्री व वित्त मंत्री पर जनता में दिल्ली से सस्ती बिजली के नाम पर झूठ फ़ैलाने का आरोप लगाते हुए कहा कि हरियाणा में 200 यूनिट तक 2.50 रूपए प्रति यूनिट जबकि दिल्ली में 200 यूनिट तक 1 रूपए प्रति यूनिट, हरियाणा में 400 यूनिट तक 4.27 रूपए प्रति यूनिट जबकि दिल्ली में 400 यूनिट तक 2 रूपए प्रति यूनिट, हरियाणा में 8-10 घंटे बिजली आती है जबकि दिल्ली में 24 घंटे बिजली आती है। दिल्ली में 1 घंटा बिजली जाने पर उपभोक्ता को 50 रूपए प्रति घंटा के हिसाब से मिलता है।
जयहिंद ने कहा कि दिल्ली में बिजली का बिल 1 महीने में आता है, जिससे जनता को स्कीम का पूरा लाभ मिलता है, वही हरियाणा में 2 महीने में बिजली का बिल आता है, जिससे जनता को कोई फायदा नही होना। प्रदेश में बिजली से ज्यादा बिल आते हैं। केजरीवाल के डर से खट्टर सरकार ने बिजली के दाम कम किए हैं।
जयहिंद ने कहा कि आम आदमी पार्टी खट्टर सरकार को 1 महीने का समय देती है कि हरियाणा की जनता को दिल्ली जितनी सस्ती बिजली, हर महीने बिजली का बिल आए और 24 घंटे बिजली रहे, नही तो पुरे प्रदेश में गांव-गांव जा कर आम आदमी पार्टी “बिजली बिल फूंकों” आन्दोलन करेगी।
जयहिंद ने कहा कि मुख्यमंत्री खट्टर व वित्त मंत्री द्वारा अपने ट्विटर व फेसबुक पर गलत जानकारी का पोस्टर शेयर किए जाने पर जनता से माफ़ी मांगे क्योंकि हरियाणा में दिल्ली से सस्ती बिजली नहीं है। सिर्फ झूठ फैला कर जनता को गुमराह किया जा रहा है।
दिल्ली की तरह हरियाणा के उपभोक्ता को मिले बिजली कट पर मुआवजा-जयहिंद
नवीन जयहिंद ने कहा कि जिस तरह दिल्ली में केजरीवाल सरकार बिजली कट पर बिजली कम्पनियों पर पेनल्टी लगाती है और उपभोक्ता को 50 रूपए प्रति घंटे के हिसाब से कम्पनी भुगतान करती है, उसी तरह खट्टर सरकार हरियाणा में भी ये स्कीम लागू करे व प्रदेश के उपभोक्ता को भी बिजली कट होने पर 50 रूपए प्रति घंटे के मिले।

LEAVE A REPLY