हरियाणा में कांग्रेस से गठबंधन के लिए गिड़गिड़ा रहे केजरीवाल को विद्रोही ने घेरा

0
179

14 मार्च 2019 : स्वयंसेवी संस्था ग्रामीण भारत के अध्यक्ष वेदप्रकाश विद्रोही ने एक बयान में कहा कि शिगुफे, जुमले उछालने, अफवाह फैलाने में दिल्ली मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बीजेपी वालों से कम नहीं हैं है। विद्रोही ने कहा कि केजरीवाल ने पहले दिल्ली में कांग्रेस के साथ चुनावी गठबंधन करने का जुमला उछाला और जब कांग्रेस ने भाव नही दिया तो कांग्रेस पर ही भाजपा से मिलीभगत करने का आरोप जड़ दिया। अब केजरीवाल जी ने मीडियो मेें सुर्खियों में बने रहने के लिए कांग्रेस को हरियाणा में आप व जजपा से गठबंधन करके लोकसभा चुनाव लडनेे की आफर कर डाली। सवाल उठता है कि केजरीवाल अनुसार जब दिल्ली में कांग्रेस भाजपा से मिली हुई है तो ऐसी कांग्रेस से वे हरियाणा में चुनावी गठबंधन का प्रयास करके कौनसी नैतिकता व सुचिता का परिचय दे रहे है।

वहीं विद्रोही ने पूछा कि जजपा ने कब केजरीवाल को ठेका दिया कि वे उनकी ओर से कांग्रेस से चुनावी गठबंधन की वकालत करे। जजपा केे जींद विधानसभा उपचुनाव हारते ही तो आप पार्टी ने सार्वजनिक रूप से कहा था कि उनका जजपा से कोई गठबंधन नही और उन्होंने केवल जींद उपचुनाव में जजपा को समर्थन दिया था। विद्रोही ने कहा कि जब जजपा-आप में कोई गठबंधन ही नही है तो जजपा की ओर से केजरीवाल कांग्रेस को गठबंधन का आफर देकर अनैतिकता की सभी हदे पार क्यों कर रहे है। केजरीवाल जी की कथनी-करनी में दिन-रात का अंतर है। विद्रोही ने यह सवाल भी पूछा कि जब हरियाणा में आप का कोई जनाधार नही है तो केजरीवाल ने हरियाणा में उम्मीदवार उतारकर कांग्रेस को नुकसान पहुंचाने व भाजपा को लाभ पहुंचाने के लिए भाजपा-संघ से क्या डील की है।

LEAVE A REPLY