भाटिया परिवार की सत्ता में रहकर सत्ताधारियों के खिलाफ आवाज उठाने की परंपरा है पुरानी

Faridabad  14 September 2016:  कल से सोशल मीडिया पर फरीदाबाद भाजपा व्यापार मंडल के नेता जगदीश भाटिया के सत्य वचन से कुछ भाजपा नेताओं को मिर्ची लगी है लेकिन सत्य तो सत्य होता है और मिर्ची मीठी नहीं कड़वी ही होती है लेकिन भाजपा नेता इस मिर्ची को पचा नहीं पा रहे हैं कुछ तो सोशल मीडिया पर लिख चुके हैं भाटिया संयमित भाषा का इस्तेमाल करें । भाटिया का आइना दिखाना भाजपा नेता पचा नहीं पा रहे हैं । सत्ताधारी पार्टी के नेता जिन्हें दो साल होने वाले हैं और अब तक इनकी नौटंकियां जारी हैं इनकी पाठशाला जारी है कैसी सरकार और कैसे कैसे नेताओं को चुन लिया है हरियाणा की जनता ने? जनता को कुछ समझ में नहीं आ रहे हैं हमने कैसे कैसे नेता चुन लिए जो पाठशाला में शिक्षा ग्रहण कर रहे हैं ।

भाटिया परिवार की बात करें तो इनके चन्दर भाटिया जब भाजपा के विधायक थे उस समय शायद चौटाला की सरकार थी उस समय वो भी सत्ता के खिलाफ गए थे लाठियां भी खाईं थीं तब मामला एक स्लम बस्ती उजड़ने का था और गरीबों को उजड़ता देख चन्दर भाटिया ने सत्ता के खिलाफ आवाज उठाई थी ।
अब उनके भाई जगदीश भाटिया आवाज उठा रहे हैं और ये आवाज किसी स्लम बस्ती की नहीं सम्पूर्ण फरीदाबाद की जनता की भलाई के लिए है और भाटिया द्वारा दिखाए जा रहे आईने को देख अगर अपने चेहरे साफ़ कर लिए तो यहाँ के सत्ताधारियों के लिए शुभ होगा ।
भाटिया ने कहा था पूरा फरीदाबाद सड़ रहा है भाजपा के नेता  मंत्री सूरजकुंड के फाइव स्टार होटल में मौज मस्ती कर रहे  हैं । जनता की भावनाओं को समझें तो उन्होंने कुछ गलत नहीं कहा था । फरीदाबाद के लाखों लोग बिभिन्न बीमारियों से विलख रहे हैं सत्ताधारी नौटंकी कर रहे हैं । जिले की अधिकाँश जनता मजदूर है रोज खाते कमाते हैं बीमारी होने पर विलख कर तड़प कर रह जाते हैं किसी बड़ी अस्पताल जाएँ तो वहां लाखों लगेंगे यहाँ घर में बच्चे भी भूंख से मरने लगेंगें इसलिए तड़पने के अलांवा उनके पास कोई रास्ता नहीं है ।
भाजपा सरकार को अब तक अपनी औकात का अंदाज नहीं लग सका है खट्टर अपनी औकात से अनजान हैं जबकि असलियत वही है जो भाटिया ने कहा था कि पार्टी के मंत्री विधायक भाजपा की लुटिया डुबोने में कोई कसर नहीं छोड़ रहे हैं । वर्तमान समय में गर हरियाणा में विधान सभा चुनाव हो जाए तो प्रदेश के अधिकांश सत्ताधारियों की जमानत जब्त हो जाएगी । अभी समय है नौटंकी छोड़ प्रदेश की जनता का ध्यान दें सत्ताधारी वर्ना?