पाराशर ने अधिकारियों पर उठाया सवाल कहा इन ओवरलोडिंग डम्फरों कौन काटेगा चालान

0
121
फरीदाबाद: अगर आप सुबह-सुबह फरीदाबाद से गुरुग्राम या सूरजकुंड की तरफ से फरीदाबाद से दिल्ली जाते हैं तो संभलकर जाएँ वरना बड़ा हादसा हो सकता है। सुबह लगभग पांच से 7 बजे तक इन सड़कों पर ओवरलोडिंग डम्फर चलते हैं इनमे काफी ऊपर तक पत्थर भरा होता है। एक एक पत्थर 50 से 100 किलो वजन के होते हैं और ये पत्थर अगर आपकी कार या बाइक पर गिर जायेंगे तो आपका भर्ता बनना तय है। तड़के इन सड़कों पर अवैध खनन के डम्फर भी चुपचाप इधर उधर भागते हैं। बार एसोशिएशन के पूर्व प्रधान एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के पूर्व प्रधान एलएन पाराशर का कहना है कि मैंने सैकड़ों बार कहा कि फरीदाबाद में अवैध खनन जारी हैं। रात्रि में विस्फोट कर अवैध खनन का काला कारोबार होता है और सुबह अवैध खनन के पत्थर ठिकाने लगाए जाए हैं।
एडवोकेट पाराशर ने कहा कि देश में  यातायात नियमों के उल्लंघन पर लगाम लगाने के लिये बने नये कानून के अमल में आने के किसी बाइक वाले का हजारों का चालान काटा जा रहा है तो किसी ट्रैक्टर वाले का, उन्होंने कहा कि जैसे उन लोगों का चालान काटा जा रहा है वैसे इन ओवरलोडिंग डम्फरों का भी काटा जाना चाहिए वरना ये किसी दिन किसी बेगुनाह की जान ले लेंगे। पाराशर ने कहा कि ट्रैफिक का नया नियम बहुत अच्छा है और इस नियम से सड़क दुर्घटनाओं में कमी आएगी लेकिन ये नियम सब पर लागू होना चाहिए।

LEAVE A REPLY