डीसीपी विक्रम कपूर आत्महत्या केस में , LN पाराशर ने आरोपी इंस्पेक्टर अब्दुल सईद को पुलिस रिमांड पर भिजवाया

0
82

फरीदाबाद: एक बड़े पुलिस अधिकारी ने आत्महत्या की है और उन्होंने सूइसाइड नोट में आरोपी का नाम लिखा है और कोई ना कोई कारण जरूर होगा। ये कहना है बार एसोशिएशन के पूर्व प्रधान एवं न्यायिक सुधार संघर्ष समिति के अध्यक्ष एडवोकेट एलएन पाराशर का जिन्होंने अभी कुछ देर पहले डीसीपी विक्रम कपूर आत्महत्या केस में पुलिस की तरफ से कोर्ट में पैरवी करते हुए आरोपी इंस्पेक्टर अब्दुल सईद कोई 20 तारीख तक पुलिस रिमांड पर भिजवाया

वकील पाराशर ने कहा कि पुलिस को पुणे से मोबाईल बरामद करना है इसलिए पांच दिन का रिमांड दिया जाए। अब्दुल सईद की  तरफ से खड़े कई वकीलों ने कहा कि अब्दुल पर झूंठा केस है और उसे डिस्टार्ज किया जाए। वकीलों ने कहा कि पुलिस ने इंस्पेक्टर अब्दुल पर जो आरोप लगाए हैं वो झूंठे हैं लेकिन पुलिस की तरफ से पैरवी कर रहे एडवोकेट पाराशर के सामने अब्दुल के वकीलों की एक भी नहीं चली और अब्दुल को 20 तारिख तक पुलिस रिमांड पर भेज दिया गया।

आपको बता दें कि 14 अगस्त को डीसीपी विक्रम कपूर ने खुद को गोली मार ली थी और उन्होंने सूइसाइड नोट में इंस्पेक्टर अब्दुल का नाम लिखा था और नोट ने उन्होंने लिखा था कि अब्दुल उन्हें ब्लैकमेल कर रहा था इसलिए उन्होंने आत्महत्या की। इसके बाद इंस्पेक्टर अब्दुल को हिरासत में लिया गया और पूंछतांछ के बाद 15 अगस्त को उसे सस्पेंड करने के बाद गिरफ्तार कर लिया गया और आज कोर्ट में पेश किया गया।

LEAVE A REPLY